इन लोगों को ज्यादा काटते हैं मच्छर, इस ब्लड ग्रुप वाले थोड़ा संभलकर!


इन लोगों को ज्यादा काटते हैं मच्छर, इस ब्लड ग्रुप वाले थोड़ा संभलकर!

मच्छरों से बचने के लिए आप कई उपाय ढूंढते रहते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कई ऐसे कारण भी होते है जिसकी वजह मच्छर कुछ लोगों को ज्यादा काटते भी हैं।

नई दिल्ली, जेएनएन। मॉनसून ने मौसम तो सुहाना कर दिया है, लेकिन बीमारियों का खतरा भी बढ़ गया है और वजह से मच्छर। मच्छर एक ऐसा जीव है, जो कई जानलेवा बीमारियों का कारण बन सकता है, इसलिए ऐसे मौसम में इससे बचा जाना आवश्यक है। मच्छरों से बचने के लिए आप कई उपाय ढूंढते रहते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कई ऐसे कारण भी होते है, जिसकी वजह मच्छर कुछ लोगों को ज्यादा काटते भी हैं। जानते हैं वो वजह कौन-कौन सी हो सकती है…

– ऐसा कई रिसर्च मे सामने आया है कि किसी एक ब्लड ग्रुप के लोगों को ज्यादा मच्छर काटते हैं। कई रिपोर्ट्स के अनुसारमच्छर ‘ओ’ ब्लड ग्रुप की ओर ज्यादा आकर्षित होते हैं।

– यह सुनने में थोड़ा अजीब है, लेकिन कई रिपोर्ट्स में सामने आया है कि जब लोग ज्यादा बीयर पी लेते हैं तब भी उन्हें ज्यादा मच्छर काटते हैं। हालांकि इस मामले में अभी भी रिसर्च चल रही है।

– जो लोग शारीरिक रुप से ज्यादा मेहनत करते हैं और उनके पसीना आता है। ऐसे में कई रिपोर्ट्स यह कहती है कि पसीने में लैक्टिक एसिड, यूरिक एसिड, अमोनिया आदि होते हैं, जिसकी वजह से मच्छर उनकी ओर आकर्षित होते हैं।

– गर्भवती महिलाओं को भी ज्यादा मच्छर काटने की बात सामने आई है। माना जाता है कि गर्भवती महिलाएं अन्य महिलाओं की तुलना में ज्यादा गहरी सांसें लेती हैं। साथ ही उनके शरीर का तापमान भी अधिक होता है।

– मच्छर ज्यादा काटने के पीछे एक कारण हमारे खून में आइसोल्युसिन का होना होता हैं। फीमेल यानी मादा मच्छर को जिन्दा रहने के लिए आइसोल्युसिन की जरूरत होती है। इस वजह से जिन लोगों के शरीर में आइसोल्युसिन ज्यादा होता है, उन्हें मच्छर ज्यादा परेशान करते हैं।  

جواب دیں

آپ کا ای میل ایڈریس شائع نہیں کیا جائے گا۔ ضروری خانوں کو * سے نشان زد کیا گیا ہے